best sharabi shayari

 

तेरे दीदार का नशा भी अजीब है तू ना दिखे तो

दिल तड़पता है और तू दिखे हैं तो नशा और चलता है

 

Leave a Reply