Good night sms

=♥==♥==♥==♥==♥==♥==
(( * ωιѕн * ((.\\ * уσυ α * \
\…\\ * ℓòνℓу*\\…..\\ * gòò∂
* \\…….)) * ηιgнт
*))………ѕωт&ℓ σνℓу ∂яєαм
=♥==♥==♥==♥==♥==♥==♥==♥==♥==♥

Good night

Cool Cool Night Me,
Small Small Room Me,
Very Small Window K Bahar,
Bright Bright Star Ko Dekhte Hue,
Aap Sweet Sweet Sapno Me Kho Jayiye.
“Good Night”..

Good night

A late night greeting doesnt only mean good night. It has a silent message saying you are my last thought at night. Good Night.

Good night

A day is going to end again. It is nice to have a friend like you making my everyday seem so great. Thank you my dear friend. Good Night and sweet dreams.

Good night

A bed of clouds for you to sleep, diamond stars as your bedside lamp, angels from heaven singing lullabies for you, may you sleep peacefully through the night

Good night sms

800 Kamro ka mehal ho, motiyo se saja ho darbaar, income ho arbo mein aur 200 marcedes car, sab mil sakta hai sapno mein, isliye so jaao mere yaar. Good Night

Good night shayari

रात ? होगी ✅तो ?#चाँद? #दिखाई ? देगा,?
#ख्वाबों? मे वो #चेहरा?#दिखाई ? देगा,✅
?ये किसी ? का #प्यार ? भरा✅?#गुड_नाईट? ?#Messege ? है,
#जवाब नही❌ दिया✍ तो सपने ?मे #भूत? दिखाई ? देगा…?

Good night

रात है काफी ठंडी हवा चल रही हॆ ?
याद मॆ आपकी किसी की मुस्कान खिल रही है ?
उनके सपनो की दुनिया मॆ खो जाओ ??
आँखे करो बन्द और आराम से सौ जाओ ??

Good night

अच्छे ख्वाबों के साथ सोना नहीं,
उम्मीदों के साथ उठाना….


Chaloo, सब कुछ छोड़कर जल्दी जल्दी सो जाओ,
बाद में बोलना मत किसी और के सपनो में चले गए…


यु खली पलकें झुका देने से नींद नहीं आती,
सोते वही लोग है जिनके पास किसी के यादें नहीं होती….


Sochta raha ये रात भर करवट बदल बदल कर,
जाने वो क्यों बदल गए, मुझ को इतना बदल कर…


ये दिल वो नगर नहीं जो फिर आबाद
हो सके सुनो पछताओगे तुम यह बस्ती उजाड़ के….


Aakhir aur kya chaahatee hai ye gardish i aayaam
hum to apna घर bhool gaye पार यूनी gali nhi….


Humne to ek hi shakhs par apni chahat khatam kar di,
ab mohabbat kise kehte hai… Hume maaloom nhi…


Bas aur nahi farmaish tujhse zindagi…
Agar mumkin ho to fir se wo Bachpan lauta de…


लोग अक्सर मुझसे puchte है तुम सोते क्यों नहीं,
main muskura kar kehta hu, jinke khwaab tut jate hai unhe nind kaha ati hai…


So ja ai dil ki ab dhundh bahut hai tere shahar mein,
apne dikhte nhi aur jo dikhte ha wo apne nhi..


Haal to पूछ लू tera par darta hu tere awaaz se tere,
jab jab suna hu kambakht mohabbat hi hua ha….


चाँद सितारे सब तुम्हारे लिए, सपने मीठे मीठे तुम्हारे लिए,
भूल न जाना हमे इसलिए, सुबह रात्रि का पैगाम तुम्हारे लिए…


jindagee ek raat hai jisamen mujhe pata nahin kitana khvaab hai,,
जो मिल गया वो अपना है, और जो टूट जाए वो सपना है..


यह रात भी बड़ी ज़ालिम होती है,
नींद लायी या न लायी पर किसी की याद ज़र्रूर लती है..


यु खली पलकें झुका देने से नींद नहीं आती,
Sote wahi लोग है जिनके पास किसी के यादें नहीं होती..


मेरे हाथो में तेरा हाथ हो, मेरे तन्हाइयो में तेरा साथ हो,
और हो सार्ड रात खामोश, हम हो तेरे बाहो में और प्यार की बात हो..

Good night

दिल की किताब में गुलाब उनका था,
रात की नींद में ख्वाब उनका था,
कितना प्यार करते हो जब हमने पूछा,
Mar jayenge तुम्हारे बिना ये जबाब उनका था..


चांदनी लेकर ये रात आपके आँगन में आये,
आसमान के सारे तारे लोरी गए कर आपको सुलाएं,
इतने प्यार और मीठे हो सपने आपके
की आप सोते हुए भी सदा मुस्कुराए…


हर कोई सो जाता है कल क लिए,
मगर ये नहीं सोचता की
आज जिसका दिल दुखाया है,
वो सोया है या नहीं….


Ho mubarak apko ye suhane raat,
mile khwabon me bhi khuda ka saath,
khule jab apke aankhe,
dhero khushiya ho apke sath..


लगता है ऐसा की कुछ होने जा रहा है,,
koi meethe sapno mein khone ja raha hai,
dheeme kar do apni roshni ai chand,
yar mera aab sone ja raha hai..


दिन भर की थकन अब मिटा लीजिए,
हो चुकी रात रौशनी अब भुजा लीजिये,
एक खूबसूरत ख़राब राह देख रहा है,
बस पलको का पर्दा गिरा लीजिये…


ये रात चांदनी बनकर आपके आँगन में आये,
ya tare सरे लोरी गए कर आपको सुलाएं,
हो आपके इतने प्यारे सपने यार,
की नींद में भी आप मुस्कुराए…


Isss kadar hai unakee mohabbat mein khoee gaee,
की एक नजर देखा और बस उन्ही के हम हो गए,
आँख खुली तो अँधेरा था देखा एक सपना था,
आँख बंद की और उन्ही सपनो में फिर सो गए..


Raat khaamosh hai chand bhi khaamosh hai,
par dil mein shor ho raha hai,
kahi aisa to nahi ek pyaara sa dost,
bina gdnyt kahe so raha hai..


Tere yaad mein doobe rahe hum,
sari raat khud se roothe rahe hum,
dekha sab ne hume muskuraate hue,
par andar hi se tutte rhe hum..

1 2 3 4