valentines day

तेरे हाथ की मैं वो लकीर बन जाऊं,
सिर्फ मैं ही तेरा मुक़दर तेरी तक़दीर बन जाऊं,
मैं तुझे इतना चाहू की तू भूल जाए हर रिश्ता
सिर्फ मैं ही तेरे हर रिश्ते की तस्वीर बन जाऊं,
तू आंखें बंद करे तो आऊं मैं ही नज़र,
इस तरह मैं तेरे हर खवाब की ताबीर बन जाऊ

Leave a Reply